ना कोई ब्लास्ट, ना कोई भूकंप, देखते ही देखते जमीन में समा गया मंदिर और कुआँ

Loading...

ना कोई ब्लास्ट हुआ और ना ही कोई भूकंप आया फिर भी लोगो के सात्मने देखते ही देखते रहस्यमयी तरीके से एक मंदिर और कुएं को जमीन ने अपने अंदर निगल लिया ! जी हाँ, आपको बेशक ये सुनने में अटपटा लगे पर अजमेर के धोलभाटा स्थित कपिलवस्तु कालोनी में घटी इस घटना को जिस जिस ने देखा वो हैरान रहे बिना नहीं रह पाया ! कुएं और मंदिर को जमीन ने निगल लिया जैसे ही ये खबर पूरे इलाके में फैली तो इस नज़ारे को देखने के लिए घटनास्थल पर लोगो का जमावड़ा लग गया !

मंदिर और कुएं के जमीन में गायब हो जाने के बाद भी पूरी रात मिटटी का देहना जारी रहा ! प्रशासन को जैसे ही पूरे मामले की सुचना मिली तो आनन फानन में प्रशासन मौके पर पहुंचा ! जैसे जैसे यह खबर फैलती गयी घटना स्थल पर लोगो का जमावड़ा लग गया| मिट्टी ढहने का सिलसिला देर रात तक लगातार जारी रहा| खबर मिलते ही नगर निगम और प्रशासन मौके पर पहुँच गया| अगले पेज पर देखिये वीडियो किस तरह समा गया विशालकाय मंदिर और कुआं ?

आसपास की गलियों में मोटी लकडियाँ लगाकर लोगो की आवाजाही रोक दी गयी| मंदिर का कुएं के साथ जमीन में समा जाने कि खबर सोशल साइट्स के जरिए आग की तरह पुरे शहर में फ़ैल गयी| लोग इस रहस्मयी घटना को देखने के लिए पहुचने लगे| पुलिस को लोगो को वहां से हटाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी|

 

दरअसल यहाँ के स्थानीय लोगो ने भी काफी मनमानी की है अपने मनमाफिक तरीक से बेसमेंट बनवा लिए है जिससे यहा के जमीन खोखली हो गयी है|जिससे जमीन के आंतरिक परतों का संतुलन बिगड़ गया और जमीन धसने लगी| इस तरह के जमीन धसने के कई मामले सामने आ रहे हैं|

यहाँ के स्थानीय लोग अभी भी सदमें है| प्रशासन ने अगल बगल के घरो को खाली करा दिया | जिससे यहाँ रहने वाले लोगो को रात भर सड़क पर गुजरना पड़ा |प्रशासन और नगर निगम को सुरक्षा कि दृष्टी से बेसमेंट बनाने के लिए कुछ जरुरी नियम बनाने चाहिए जिससे सुरक्षा और प्रकृति के साथ खिलवाड़ न हो|

Loading...