भारतीय छात्र ने बना दिया ऐसा उपकरण , अब दूर बैठे अपने मोबाइल की मदद से बंदूक चला सकती है आर्मी !

Loading...

कुशीनगर जिले में रहने वाले एक किसान परिवार के नवयुवक ने एक अनोखा उपकरण बना डाला है। यह भारतीय सेना के लिए समर्पित है। इस उपकरण से ध्वनि तरंगों को विद्युत तरंगों में बदला जाता है, और हजारों किलोमीटर दूर से इस विद्युत उपकरण को ऑपरेट किया जा सकता है। और इस उपकरण से मोबाइल फ़ोन की मदद से कहीं से भी बन्दूक से हमला किया जा सकता है।

कुशीनगर के रहने वाले किसान परिवार से तालुक रखने वाले संदीप कुमार पासवान ने यह दावा किया है कि, उनके इस उपकरण से सेना के लिए इस्तेमाल आने वाले सभी अत्याधुनिक तकनीक से बने हथियार इस उपकरण की सहायता से कंट्रोल किया जा सकता है। भारतीय सेना के लिए यह उपकरण बहुत कारगर साबित हो सकता है।

जानकारी के अनुसार, कुशीनगर जिले के खागी मुंडेरा गाँव के रहने वाले संदीप कुमार पासवान की रूचि हमेशा से ही बिजली के तारों को ठीक करने और उनसे तरह-तरह के उपकरण बनाने में रही है। इस विद्यार्थी के पिताजी सुखदेव पासवान भी अपने बेटे को हमेशा से ही उसकी काबिलियत को सराहा है और उसे आगे बढ़ाने के लिए हमेशा प्रोत्साहित किया है।

संदीप कुमार बताते है कि, देश के वीर जवान जब सीमा पर शहीद हो जाते है तो उन्हें बहुत धक्का लगता है और दुःख होता है। मैं हमेशा से ही अपने देश के वीरों के लिए कुछ करना चाहता था। लेकिन एक दिन अचानक दिल में यह उपाय आया कि, ध्वनी तरंगों को को विद्युत तरंगों में परिवर्तित किया जाये। कई महीनों की मेहनत के बाद यह उपकरण बनाने में सफलता मिली।

12वीं कक्षा मैथ्स से उत्तीर्ण करने वाले संदीप कुमार पासवान इस सिद्धांत के बारें में बताते है कि, मोबाइल की सहायता से विद्युत तरंगो को ध्वनि तरंगों में तब्दील कर दिया जाता है। इस उपकरण के जरिये से ध्वनि तरंगों को फिर से विद्युत तरंगों में परिवर्तित किया जाता है। और इसी आधार पर इन तरंगों के जरिये से घर का पंखा, गली की लाइट, खेत का ट्यूबवेल और बन्दूक से फायर कर सकते है।

और इस उपकरण की ख़ास बात यह है कि, यह मोबाइल से जुड़ा हुआ रहता है, और मोबाइल से कहीं पर भी कॉल करने के बाद ध्वनि तरंगे विद्युत तरंगों में बदल जाती है और कोई भी विद्युत उपकरण या बन्दूक चल जाते है। एक बार तो ये सुनने पर बिल्कुल भी इस पर विश्वास नहीं होता है लेकिन यह सच है और इसका दावा कर रहे है संदीप पासवान। हालाँकि, अभी यह आविष्कार अपने शुरूआती दौर से गुजर रहा है, संदीप पासवान का कहना है कि, और ज्यादा सुविधा मिलने पर वह और भी कुछ बड़ा कर सकता है।

इस विडियो में आप देख सकते है कि, किस तरह से इस उपकरण के जरिये से यह सब कुछ परिवर्तित किया जा रहा है। अगर ये आईडिया बिल्कुल सही तरीके से काम कर गया तो, दुश्मन आतंकवादी हमारे देश में घुसपैठ भी नहीं कर पाएंगे और दूर बैठे ही उनपर फायर कर दिया जायेगा।

 

Loading...